अभिषेक का चश्मा बना कारण अगर चश्मा नहीं लगा रहता तो वह तीनों सेनाओं में निश्चित रूप से टॉप रहता।

 

Reported by piyush dubey

सारण के अभिषेक राज ने यूपीएससी द्वारा आयोजित सीडीएस की आर्मी व नेवी की परीक्षा में पूरे देश भर में टॉप किया है। मांझी के लेजुआर के मूल निवासी व शहर के श्यामचक के अधिवक्ता विजेंद्र कुमार सिंह व गृहिणी बबीता देवी के इकलौते पुत्र अभिषेक राज को इंडियन मिलिट्री एकेडमी और इंडियन नेवल एकेडमी में पहला स्थान मिला है। लिखित परीक्षा व इंटरव्यू के आधार पर अभिषेक का अंतिम रूप से चयन हुआ है।
डीएवी स्कूल आरा से मैट्रिक, मदर खजानी स्कूल, दिल्ली से इंटर की पढ़ाई के बाद अभिषेक ने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से वर्ष 2018 में बीटेक की पढ़ाई पूरी की है। इसके बाद हैदराबाद की एक सॉफ्टवेयर कंपनी में मैनेजर के पद पर नौकरी लग गई। नौकरी लग जाने के बाद भी अभिषेक सीडीएस में चयन के लिए तैयारी करते रहे। प्रथम प्रयास में चयन नहीं होने के बाद पूरी गंभीरता से तैयारी में लग गए।अभिषेक ने कहा कि इसका परिणाम भी सुखद रहा। द्वितीय प्रयास में वह देशभर में सर्वोच्च स्थान पाने में सफल रहा। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय माता पिता के अलावा गुरुजनों को दिया है। यह भी कहा कि देश सेवा में जाने का जज्बा ही सीडीएस कम्प्लीट करना प्रेरणा स्रोत रहा।अभिषेक ने कहा कि उसे इस बात का मलाल रहेगा कि चश्मा पहनने के कारण एयर फोर्स के लिए आवेदन के योग्य नहीं हो सका। चश्मा नहीं लगा रहता तो वह तीनों सेनाओं में निश्चित रूप से टॉप रहता। मालूम हो कि पूरे देश से तीनों सेनाओं के लिए 100 युवाओं का चयन हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *