कार में फंसे मृतक को ले 10 किमी भागते रहे नाबालिग, टुकड़े-टुकड़े हो गिरता रहा शव..

March 07, 2019

Reported by Ravi

कार में फंसे मृतक को ले 10 किमी भागते रहे नाबालिग, टुकड़े-टुकड़े हो गिरता रहा शव..

पटना में रोंगटे खड़े कर देने वाली एक सड़क दुर्घटना हुई। म्‍यूजिक में मस्‍त कार सवार चार नाबालिग छात्र-छात्राओं ने सुध-बुध खो दिया। परिणाम भयानक हुआ।

पटना [जेएनएन]। इस दुर्घटना को जिसने भी देखा, सिहर उठा। आंखें भर आईं और जमकर गुस्सा भी फूटा। कार सवार नाबालिग छात्र-छात्राएं पुलिस से बचने को तेजी से गाड़ी भगाते रहे और कार में फंसा शव टुकड़े-टुकड़े होकर जहां-तहां सड़क पर गिरता रहा। दुर्घटनास्थल रूपसपुर से भाग रहे कार सवार छात्र-छात्राएं लगभग 10 किलोमीटर दूर पाटलिपुत्र कॉलोनी में पुलिस और लोगों की मदद से रोके जा सके। कार से कुचलकर मरने वाले अधेड़ का शव इतना क्षत-विक्षत हो चुका था कि पहचान मुश्किल हो गई।

कार रुकने के साथ ही उसपर सवार दो लड़कियां भाग निकलीं, जबकि दोनों छात्र भीड़ के हत्थे चढ़ गए। लोगों ने छात्रों की पिटाई शुरू कर दी। दोनों की पहचान अनिकेत चंद्रा और इशांत सिंह के रूप में हुई है। कार अनिकेत चला रहा था जो गोसाईंटोला स्थित उषा अपार्टमेंट का रहने वाला है, जबकि इशांत उत्तरी एसकेपुरी का निवासी है। दोनों 11वीं के छात्र हैं।
पुलिस किसी तरह छात्रों को भीड़ के चंगुल से छुड़ाकर पाटलिपुत्र थाने ले गई। इस बीच आक्रोशित भीड़ ने पाटलिपुत्र कॉलोनी स्थित पॉलीटेक्निक मोड़ के पास कार में तोडफ़ोड़ की तथा सड़क जाम लगा दिया।

सामने से कार ने मारी टक्कर

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, शाम साढ़े पांच बजे अनिकेत अपने दोस्त इशांत और दो लड़कियों के साथ कार से तेज रफ्तार में गाना बजाते हुए जा रहा था। रूपसपुर थाना क्षेत्र के चुल्हाई नगर में उसने सड़क पार कर रहे व्यक्ति को सामने से टक्कर मार दी। जोरदार टक्कर के बाद शव कार के पिछले हिस्से में फंस गया।

राहगीरों ने रोको-रोको आवाज दी तो कार सवार डर गए और उन्होंने रफ्तार बढ़ा दी। शव घिसटता रहा और राहगीर गाड़ी के पीछे लगे रहे। बचने के लिए अनिकेत ने लिंक रोड का सहारा लिया मगर बाइक सवार लोग पीछे लगे रहे। इस दौरान शव के टुकड़े गिरते रहे।

ऐसे भीड़ के हत्‍थे चढ़े नाबालिग कार सवार

भागमभाग में इंद्रपुरी रोड नंबर पांच में स्पीड ब्रेकर पर कार उछली, तो शव का एक बड़ा हिस्सा वहीं गिर गया। तब अनिकेत को पता चला कि शव कार में फंसा है। इसके बाद उसने गाड़ी की रफ्तार थोड़ी कम की और महेश नगर के सामने से पाटलिपुत्र कॉलोनी की तरफ भाग गया। वहां एक अपार्टमेंट के नीचे उसने दोनों युवतियों को उतारा और आगे बढ़ा कि लोगों ने उसे घेरकर पकड़ा और पीटना शुरू कर दिया।

आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम
इस बीच पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने बीच-बचाव कर छात्रों को अपनी गाड़ी में बिठा लिया। इसके बाद लोग धक्का देते हुए कार को पॉलीटेक्निक चौराहे पर लेकर गए और तोडफ़ोड़ करने लगे। भीड़ कार को फूंकने वाली थी, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर हालात पर काबू पा लिया। इस बीच लोगों ने सड़क जाम कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *