सीजेएम कार्यालय ने राहुल के खिलाफ समन जारी कर दिया है। आत्मसमर्पण की तारीख 20 मई तय की गई है।

 

Reported by Ravi

 

राहुल गांधी मोदी पर बयान देकर बुरी तरह फंस गये हैं न सिर्फ इस बयान से उनकी खूब फजीहत हुई है बल्कि वे कानून के लपेटे में भी आ गये हैं। पटना के सीजीएम कोर्ट ने उन्हें 20 मई तक सरेंडर करने को कहा है। दरअसल राहुल गांधी ने कर्नाटक की एक चुनावी सभा में एक कथित बयान दिया था कि मोदी नाम के सारे लोग चोर होते हैं। अब कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ पटना सीजेएम कोर्ट ने सम्मन जारी किया है। बिहार के डिप्‍टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने 18 अप्रैल को राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया गया था। इसी को लेकर शनिवार को कोर्ट ने समन जारी किया है।

कोर्ट ने राहुल गांधी को 20 मई या उससे पहले उपस्थित होने को कहा है। पटना सीजेएम शशिकांत राय ने डिप्टी सीएम के शपथपत्र पर दिए गए बयान और राहुल गांधी के भाषण की सीडी देखने के बाद आइपीसी की धारा 500 के तहत समन जारी करने का आदेश दिया। कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए रिकॉर्ड को एसीजेएम- प्रथम कुमार गौरव की अदालत में भेजने का आदेश दिया है। सीजेएम कार्यालय ने राहुल के खिलाफ समन जारी कर दिया है। आत्मसमर्पण की तारीख 20 मई तय की गई है। वे चाहें तो पहले भी सरेंडर कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *