डेंगू मच्छर से दहशत में सरकारी कर्मी, अगरबती के जलाकर काम करते है कार्यालय में।

डेंगू की चपेट में आये कई प्रखंड कर्मी । कर्मियों में है दहशत।
दुल्हिन बाजार :- प्रखंड कार्यालय में क्या आस-पास साफ सफाई का बहुत ही कमी है क्या ना होने के कारण प्रखंड परिसर से लेकर कमरों में तक गंदगी के अंबार लगे रहते हैं कार्यालय में सिर्फ साहब के चेंबर छोड़कर कहीं भी साफ सफाई नहीं दिखाई पड़ती है जिसके वजह से मच्छरों का जमावड़ा लगा रहता है इसी वजह के कारण कार्यालय में बढ़ रहा है डेंगू का प्रकोप। जिसके कारण काम करने वाले प्रखंडकर्मी सहित प्रखंड विकास पदाधिकारी व अंचलाधिकारी भी काफी भयभीत है की कही उन्हें भी डेंगू न हो जाये। पिछले एक माह में तीन प्रखंडकर्मी डेंगू के चपेट में आ गए है। जिसमे से दो कर्मियों का इलाज चल रहा है। वहीं 20 दिन पूर्व एक जन वितरण प्रणाली दुकानदार नीरज की मौत डेंगू की चपेट में आने से हो गई है। जबकि चौथे समय रहते जांच कराई तो अब ठीक है। डेंगू का डर इतना ज्यादा है कि पूरा दिन मच्छर मारने वाली अगरबत्ती जलाकर कर्मी काम करने को मजबूर है। वहीं सूचना पर जब प्रखंड कार्यालय पहुंचा तब हर टेबल पर मच्छर भगाने वाली क्वायल जलाकर अधिकारी और कर्मचारियों को काम करते देखा। इतना ही नही, दुल्हिन बाजार अंचलाधिकारी राजीव कुमार भी डेंगू से काफी भयभीत है। प्रखंड विकास पदाधिकारी संजीव कुमार आजकल कार्यालय में कम कार्यालय से बाहर ही ज्यादा काम निपटा रहे हैं। कार्यालय पहुंचने पर अंचल और प्रखंड के कर्मी टेबल पर मच्छर मारने वाली अगरबत्ती जलाकर काम कर रहे है। वही कंप्यूटर ऑपरेटर जितेंद्र कुमार, सोनू कुमार, रितेश कुमार, मिथलेश कुमार, रवि शंकर कुमार, हरेंद्र कुमार, धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि डेंगू के डर के कारण प्रखंड में काम करने में डर लगता है। लेकिन मजबूरी है काम करना। यदि जल्द कोई उपाय नही किया गया तो सभी लोग डेंगू के मरीज हो जाएंगे। जिसके कारण इनलोगो में और डर और ज्यादा बना हुआ है। इस दौरान अंचलाधिकारी राजीव कुमार ने बताया मेरे ऑपरेटर को डेंगू हो गया है और वो इलाज के लिए चला गया है जिसके कारण कंप्यूटर पर मुझे ही काम करना पड़ रहा है। मछर से बचाव के लिए अगरबती से कार्यालय में काम करना पड़ रहा हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *