अश्लील विडिओ वायरल कांड बना चर्चा का विषय,पुलिस इस मामले की गहन जाँच में जुटी

Reported by Amlesh kumar 
पटना जिले के पालीगंज अनुमंडल बाजार आजकल अश्लील विडिओ वायरल कांड से काफी चर्चित हो गया है ।जिधर जाइए लोगों द्वारा हर गली मोहल्ले, चाय -चुकड़ो की दुकानों पर और चौक चौराहो पर इस बात की चर्चा जोरो पर गहमा गहमी रूप से कई दिनों से जारी है ।


जानकारी के अनुसार अनुमंडल बाजार के चंढ़ोस रोड स्थिति एक निजी विद्यालय लिटिल फ्लावर में पढ़ने वाली एक अनुमान के मुताबिक लगभग 40 -से 50 छात्राओं के इसी विद्यालय में पढ़ाने वाले एक शिक्षक धर्मेन्द्र कुमार के साथ अंतरंग सम्बन्धों की अश्लील वीडियो कुछ दिनों से वॉट्सएप्प और फेसबुक पर वायरल हो रही है ।यह वीडियो को इसी विद्यालय में पढ़ाने वाले शिक्षक ने बनाई या उसके कोई सागिर्द ने यह अब गहन जाँच का विषय है लेकिन एक बात तो स्पष्ट है की इस अश्लील वीडियो और फोटोकांड में कई औरलोग संलिप्त है ।यह काम किसी एक आदमी से सम्भव नहीँ ।इस बड़े काण्ड को अंजाम देने के लिए बड़े गिरोह भी सक्रिय हो सकता है ।जिसकी उदभेदन करना अनुमंडल पुलिस के लिए एक बहुत बड़ी चुनौती हो गई है ।


जानकारी के अनुसार यह अश्लील विडिओ वायरल कांड की उजागर होने के बाद इसमें शामिल रहे कुछ छात्राओं के अभिभावकों और ग्रामीणों ने उस शिक्षक की तलाश जोर शोर शुरू कर दिया था लेकिन इसकी भनक लगते ही शिक्षक धरेन्द्र कुमार ने समय की नजाकत को देखते हुए घर छोड़कर डर से फरार हो गया ।लेकिन इस कांड से आक्रोशित लोगों ने परशो रात में शिक्षक के घर पर धावा बोल ढ़ुढ़ते हुए पहुँच गए लेकिन आरोपी शिक्षक धर्मेन्द्र कुमार तो नहीँ मिला लेकिन उसके पिता कृष्णा साव को ही भीड़ का कोप भाजन बनना पड़ा ,आक्रोशित लोगो ने उसे ही जमकर पिटाई करते हुए घर में तोड़फोड़ करते हुए जमकर हंगामा किया ।इसके बाद इसकी सुचना के बाद पुलिस मौके पर पहुचकर शिक्षक के पिता को आक्रोशित लोगो से छुड़ाकर आक्रोशित लोगो को आरोपी शिक्षक के विरुद्ध कड़ी करवाई के आश्वाशन के बाद मामला को किसी तरह से शांत करवाया ।
अब अगले दिन बीते कल सोमवार 6 मई को सुबह कुछ पीड़ित अभिभावको ने काफी हिम्मत दिखाते हुए स्थानीय थाने में इस घटना की लिखित शिकायत करते हुए लिटिल फ्लावर स्कुल के संचालको की भी संलिप्ता बताते हुए साथ ही दोषी शिक्षक और उसके अन्य शागिर्दों पर कड़ी करवाई की माँग करते हुए प्राथमिकी दर्ज करवाई ।इसके बाद तुरन्त पुलिस ने हरकत में आते हुए करीब 10 बजे दलबल के साथ लिटिल फ्लावर स्कुल पहुचकर विद्यालय के प्रबन्धक रवि कुमार एवम् अन्य शिक्षकों से पूछताछ किया और विद्यायल को तत्काल बन्द करवा दिया ।इस बीच सैंकडो की संख्या में आसपास लोग और कुछ पीड़ित परिजन भी पहुचकर कुछ देर तक हंगामा किया ।
वहीँ इस मामले की पुलिस गहन जाँच में जुटी है।डीएसपी मनोज पांडे ने इस अश्लील वीडियो और फोटो कांड को बहुत ही गम्भीर बताते हुए कहा की इसे पुलिस बड़े ही संजीदगी और गभीरतापूर्वक से लेकर जाच में जुटी है ।इसमें कितने भी बड़े लोग क्यों न शामिल हो सभी दोषियों के विरुद्ध पुलिस कड़ी करवाई करेगी ।
वहीँ इंस्पेक्टर सह थानेदार नन्दकिशोर सिंह ने बताया की पुलिस ने अभिभावको की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज कर सघन जाच में जुटी है पुलिस जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजेगी ।
अब लाख टके की सवाल यह उठता है की आखिर 40 से 50 लड़कियों के साथ बड़े पैमाने पर यह खेल खेला जा रहा था लेकिन विद्यालय प्रबन्ध को इसकी भनक तक न हो यह बात कुछ हजम नही हो रही है ,साथ ही एक अकेले शिक्षक ही संलिप्त हो यह भी कतई नामुकिन है क्योंकि अकेले अश्लील वीडियो बनाना सम्भव नही इस काण्ड में कई लोग इसके शागिर्दी में शामिल होंगे ? वैसे इस कांड में इस विद्यालय के कुछ शिक्षिकाओं की भी संलिप्तता होने की बात सामने आ रही है अब यह तो पुलिस की निष्पक्ष जाँच होगी तभी इसकी सही सत्यता सामने आ सकती है ।
वहीँ दूसरी ओर इस कांड में पीड़ित कई छात्राओं के अभिभावको ने नाम न लिखने की शर्त पर (वैसे यह उचित भी नही )उन्होंने राज्य सरकार माँग करते हुए कहा है की इसकी निष्पक्ष जाँच किसी दूसरे जाँच एजेंसी या एसआईटी टीम गठित जाँच करवाए ।वहीँ कुछ समाजिक कार्यकर्ताओ ने भी इसकी सीबीआई से जाच की माँग करते हुए दोषियो के विरुद्ध कड़ी करवाई की माँग किया है ।
यह हो सकता हो की बड़ा सेक्स रैकेट गिरोह भी सक्रिय हो ।इसकी पर्दाफास अब होनी ही चाहिए ।वैसे भगलपुर बालिका सुधार गृह काण्ड से भी लोग दबी जुबान से चर्चा करते हुए कह रहे है की उससे भी बड़ा काण्ड यह हो सकता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *