2021 के जाति जनगणना के बाद बढ़ाया जाएगा एससी एसटी और पिछड़ों का कोटा- सुशील मोदी

सिटी न्यूज़ लाइव डेस्क

पटना के रविंद्र भवन में आयोजित कर्पूरी जयंती समारोह में बोलते हुए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार जाति आधारित जनगणना को लेकर गंभीर है और 1931 के बाद पहली बार 2021 में जाति आधारित जनगणना कराई जाएगी और जातीय जनगणना के बाद एससी एसटी समाज के आरक्षण कोटे को बढ़ाया जाएगा साथ ही अगले पंचायत चुनाव में अति पिछड़ा समाज के लोगों को कोटे को बढ़ाने का काम एनडीए सरकार करेगी।
साथ ही उन्होंने कांग्रेस सरकार द्वारा 1931 ईस्वी के बाद जाति आधारित जनगणना नहीं कराए जाने को लेकर सवाल खड़े किए और ऊंची जाति के गरीबों को भी आरक्षण नहीं दिए जाने पर कांग्रेस को घेरा।


उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने आरजेडी पर तंज कसते हुए कहा कि कर्पूरी जी के नाम का स्वांग रचने वाली आरजेडी बताएं कि 27 साल तक बिहार में पंचायत चुनाव क्यों नहीं हुआ और 2001 में एसटीएससी को बिना आरक्षण दिए क्यों पंचायत चुनाव करवा दिए गए।

उन्होंने कहा कि बीजेपी की नीति ही समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर चलने की है चाहे एससी एसटी अत्याचार अधिनियम में दलितों के न्याय का मामला हो, मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक के भेदभाव से मुक्ति दिलाना हो या ऊंची जाति के लोगों को 10% आरक्षण देने का मामला हो यह सभी काम को करने का काम एनडीए सरकार ने किया है।
इससे पूर्व जननायक कर्पूरी ठाकुर के तस्वीर  पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का प्रारंभ किया गया। इस अवसर पर सूबे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ,पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, कृषि मंत्री प्रेम कुमार, पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार सहित कई अन्य गणमान्य ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *