जयपुर में 22 लोगों में जीका वायरस का संक्रमण, PMO ने स्वास्थ्य मंत्रालय से मांगी रिपोर्ट

राजस्थान की राजधानी जयपुर में 22 लोगों में ज़ीका वायरस का संक्रमण पाया गया है.  इसके बाद पीएमओ ने स्वास्थ्य मंत्रालय से इस बारे में विस्तृत रिपार्ट मांगी है. संक्रमित लोगों में से एक शख्स बिहार के सीवान में अपने घर से हाल ही में लौटा है. जीका वायरस दिन में एडीज मच्छरों के काटने से फैलता है. इस बीमारी में बुखार के साथ जोड़ों में दर्द और सिरदर्द जैसे लक्षण दिखाई देते हैं. इसका कोई टीका नहीं है, न ही कोई ख़ास उपचार है.

उत्तर प्रदेश प्रदेश समेत तीन राज्यों में बच्चों को पिला दी पोलियो की दूषित दवा, सरकार ने ये कहा

जयपुर में 22 लोगों के जीका विषाणु से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है और इस विषाणु (वायरस) से संक्रमित हुए लोगों में एक व्यक्ति बिहार का निवासी है और वह हाल ही में सीवान जिले स्थित अपने घर गया था.  बिहार ने अपने सभी 38 जिलों को परामर्श जारी कर उन लोगों पर करीबी नजर रखने का निर्देश दिया है, जिनमें जीका विषाणु के संक्रमण जैसे लक्षण दिखाई दे रहे हों. सीवान निवासी जयपुर में पढाई करता है.  वह 28 अगस्त और 12 सितंबर के बीच एक परीक्षा में शामिल होने के लिए घर गया था. उसके परिवार के लोगों को निगरानी के तहत रखा गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पीएमओ ने जयपुर में जीका विषाणु के प्रसार पर एक व्यापक रिपोर्ट मांगी है. नियंत्रण उपायों में राजस्थान सरकार की मदद के लिए सात सदस्यीय एक उच्च स्तरीय टीम जयपुर में है. साथ ही, राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) में एक नियंत्रण कक्ष सक्रिय किया गया है ताकि हालात की नियमित निगरानी की जा सके. स्वास्थ्य मंत्रालय के स्तर पर हालात की समीक्षा की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *